स्याही फेंके जाने पर स्वामी जी की पहली प्रतिक्रिया
  • ByVikas
  • OnJanuary 14, 2012
  • Views164
  • Comments0

स्याही फेंके जाने पर स्वामी जी की पहली प्रतिक्रिया

जिन लोगों ने भी सच के लिए लड़ाई लड़ी है उनको सच की कीमत चुकानी पड़ती है | ज़ालिम हर प्रकार के ज़ुल्म करता है कई प्रकार के षड्यंत्र करता है | हमने यदि काला धन मांगा, हमने यदि काले धन को राष्ट्रीय संपत्ति घोषित कर के राष्ट्र को दिलाने की बात की , भ्रष्टाचार को मिटाने की बात की और देश के लोगों को इस लोकतंत्र को जिन लोगों ने लूट तंत्र बना दिया भ्रष्ट तंत्र बना दिया उसको एक सच्चा लोकतंत्र बनाने की बात की और उसके उपहार के रूप में ये काली स्याही तो क्या … हमने काला धन मानाग था यद्यपि … काले झंडे बहुत दिखाये गए हमें .. तब हमने कोई परवाह नहीं की … और अब जिसका चरित्र जिसका जीवन देश के लोगों की भलाई के लिए है … किसी के स्याही फेंक देने से उसके चरित्र पर कोई असर नहीं होता … और हम पूरी प्रमाणिकता के साथ, पूरी दृढ़ता के साथ, पूरी मजबूती के साथ अपनी लड़ाई जारी रखेंगे .. चाहे इसमें लाख बाधाएं आयें … हम रुकने वाले नहीं है … हम डरने वाले नहीं है | पहले जो कुछ किया उसको पूरे देश ने देखा | और मै तो इतनी सी बात कहता हूँ की हमने क्या ऐसा किया है या क्या हमने कहा है जिस से की इस तरह की बातें हो ? इसका मतलब है जो कुछ सच है वो देश के सामने अपने आप आ जायेगा …..

Aim of this website is to spread the thoughts of Swami ji to one and all. When you listen to Swami ji though videos then those thoughts reach directly to you. Please share this website with your friends and acquaintances.
CALENDER

Archive Calendar

Mon Tue Wed Thu Fri Sat Sun
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
3031